परम आदरणीय दादी जानकी का पॉवर ऑफ़ सकाश टीम के लिए विशेष सन्देश

 पॉवर ऑफ़ सकाश माना क्या,एक है पॉवर सोल कोंसिउस (आत्मिक अनुभति ) मे रहने की दूसरी है पॉवर, लक्ष्य मेरा क्या है,फिर आता है संबंध मेरा बाबा के बच्चो के साथ ,फिर विश्व के साथ ,पहले हमारा पर्सनल बाबा के साथ संबंध क्या है,इस सेवा से एनर्जी बनती है,खर्च नहीं है टाइम देते है तो सफला बहुत होता है |  

परम आदरणीय दादी जानकी का पॉवर ऑफ़ सकाश टीम के लिए विशेष सन्देश सुनने के लिए इस लिंक पर क्लिक कीजिये 

https://www.dropbox.com/s/d3982fw5hpobd4a/DadiJiChitChat.3gp?dl=0

Audio Links of Power of Sakash

  • सूरज भाई जी का पॉवर ऑफ़ टीम प्रति सन्देश ऑडियो की लिंक नीचे दी गई है

https://www.dropbox.com/s/y0ow4v2wav206kl/SURAJ%20BHAI%202%20JUNE.mp3?dl=0

  • सूरज भाई जी कमेन्ट्री ( ग्लोब को सकाश )पॉवर ऑफ़ टीम प्रति सन्देश ऑडियो की लिंक नीचे दी गई है

https://www.dropbox.com/s/fduzjbsn9yu2cdr/POST%20SURAJ%20BHAI%20GLOBE%20FINAL%20.mp3?dl=0

 

Experience-Protection

➣  पूनम कुंद्रा (जालंधर) का पॉवर ऑफ़ साकाश टीम से जुड़ने के बाद का अनुभव :-

♕  मैं आठ साल से ज्ञान में चल रही हूँ। छः सदस्य के परिवार में केवल मैं ही ज्ञान में हूं। मैं मुरली नियमित पढ़ती हूँ और मैडिटेशन भी करती हूँ। अपनी अच्छी अडोल स्थिति का अनुभव बताना चाहती हूँ। कुछ समय पूर्व हमारी फैक्टरी में आग लग गई।रात के नो बजे पता लगने पर मेरा पती और बेटा फैक्टरी गऐ। इस दौरान मेरे मन मैं संकल्प आया की कोई मेरा कर्म भोग कट रहा है और हम बाबा के बच्चे है बाबा देखेगा।

♕  दमकल की दस गाडियो की मदद से तीन घण्टे बाद आग पर काबू पा लिया गया। वो शेड पूरा जल गया। जब पति घर आये तो परमात्मा का शुक्रिया कर रही थी की आस पास इतना सामान था यदि उसे आग लग जाती तो शायद पूरी फैक्टरी खत्म हो जाती। बाबा ने बचा लिया। अगले दिन सबको अख़बार सहित पता लग गया तो लोग हाल पूछने आने लगे। उनको हाल बताया मैं मन में नाच रही थी क्योंकि बाबा ने मुझे अचल अडोल स्थिति का अनुभव करवा दिया।

♕  पूरी परिस्थिति के दौरान मुझे कोई नेगेटिव विचार नहीं आया और मैं स्टेबल रही और ड्रामा पर निश्चय रहा। मुझे नुक्सान से ज्यादा इस बात की ख़ुशी हो रही थी की जो पेपर मेरे सामने आया मैं उस में पास हो गई। मन यही गाता जा रहा था, मैं पास हो गई। परिणाम यही हुआ की अगले दिन जब मशीन खोली तो पता लगा की सब रिपेयर हो जायेगी। कोई भी मशीन नई नहीं लानी पड़ी। 15 दिन में ही सब रिपेयर हो गया और काम चालू हो गया। इन्सुरेंस वाले आये आप क्लेम लो पर मेरे पति ने मना कर दिया की मेरा कोई भुगतान बाकि था पूरा हुआ।

♕  शुक्रिया बाबा का जो मुझे पॉवर ऑफ़ सकास टीम का साथ जुड़ने का अवसर मिला। मैं पूरी कोशिश करती हूँ कि सब फॉलो करू। अमृतवेला और नुमाशाम भी।टीम से जुड़ने से और भी बहुत कुछ सीखने को मिल रहा है।

मनसा सेवा के अभ्यास की आवश्यकता/लक्ष्य एवं उद्देश्य:-

मनसा सेवा के अभ्यास की आवश्यकता/लक्ष्य एवं उद्देश्य:-

═══❂═══❂═══❂═══❂═══❂
▤▤❒❂❒▤▤❒❂❒▤▤❒❂❒▤▤❒

➊ स्वयं को, सेवा-साथियों को , सेवा-स्थानों को और बेहद के वातावरण, वायुमंडल को शक्तिशाली और निर्विघ्न बनाने के लिए :-

❂1】अभी तो वाणी से बदलने का कार्य चल रहा है; अभी वृत्ति द्वारा वृत्तियां बदले , संकल्प द्वारा संकल्प बदल जाएँ। अभी यह रिसर्च तो शुरू भी नहीं की है, थोड़ा-थोड़ा किया तो क्या हुआ? यह सूक्ष्म सेवा स्वतः ही कई कमजोरियों से पार कर देगी। जो समझते हैं कि यह कैसे होगा ? वह जब इस  सेवा में बिज़ी रहेंगे तो स्वतः ही वायुमंडल ऐसा बनेगा जो अपनी कमजोरियां स्वयं को ही स्पष्ट अनुभव होंगी और वायुमंडल के कारण स्वयं ही शर्मसार हो परिवर्तन हो जाएंगे , कहना नहीं पड़ेगा, कहने से तो देख लिया इसलिए अभी ऐसा प्लान बनाओ। जिज्ञासु और ज्यादा बढ़ेंगे इसकी चिंता नहीं करो, मदोगरी ( आर्थिक संपन्नता) भी बहुत बढेगी इसकी भी चिंता नहीं करो, मकान भी मिल जाएंगे इसकी भी चिंता नहीं करो सब सिद्धि हो जाएगी। यह विधि ऐसी है जो सिद्धि स्वरूप बन जाएंगे। (18.01.86)

═══❂═══❂═══❂═══❂═══❂
मनसा सेवा अर्थात याद में रहकर सेवा। (24.10.81)
═══❂═══❂═══❂═══❂═══❂

▤▤❒❂❒▤▤
ॐ  शांति
▤▤❒❂❒▤▤

 

 

 

इतना श्रेष्ठ कार्य आप सभी कर रहे है ,मन में भी यही संकल्प बना कर रखे कि यह बाबा का कार्य है,और शिव की शक्ति है,जो बाबा की शक्ति कोई भी आत्मा कैसे भी आत्मा होती है,उसको शक्ति का ऐसा अनुभव कराये, तो इसीलिए आप बच्चे जो कार्य कर रहे है,निमित बनकर अच्छा है,बाबा का कार्य तो बढ़ना ही है ,दुनिया की शक्ति भी अपना कार्य कर रही है आप बच्चों की भी डबल शक्ति, डबल लाइट बनकर आप बच्चे विश्व को प्रकाश देंगे सकाश देंगे,तो बाबा ने कहा कि बाबा का कार्य जरुर जल्द ही संपन्न होना ही है ,ऐसे कहते बाबा ने जो भी सेवा के निमित बच्चे है,….बाबा ने उन्हें सभी को बहुत बहुत याद प्यार दिया

 

 बापदादा का दिव्य सन्देश पॉवर ऑफ़ सकाश टीम के लिए सतगुरुवार के दिन 12 may 2016  

 पॉवर ऑफ़ सकाश टीम 10000 के लिए और इससे जुड़े सभी तपस्वी सेवाधारियों के लिए अति विशेष सतगुरुवार भोग सन्देश

           विशेष सतगुरुवार बाबा का भोग सन्देश सुनने के लिए नीचे दिए गए ड्रापबॉक्स लिंक पर क्लिक कीजिये

         https://www.dropbox.com/s/h9ujsii56dyakgl/BaapDada%20Sandesh.mp3?dl=0

 “कृपया इस सन्देश को बार बार सुनें और अधिक से अधिक ग्रुप्स में फॉरवर्ड करें और बाबा को प्रत्यक्ष करने के इस महान कार्य में अपना सहयोग दें”

— बी के सूर्य भाई जी
मधुबन

मंसा सेवा *☆* के अभ्यास कि आवश्यकता /लक्ष्य एवं उद्देश्य ( स्वयं को, सेवा-साथियों को, सेवा-स्थानों को और बेहद के वातावरण, वायुमंडल को शक्तिशाली और निर्विघ्न बनाने के लिये

۩۞۩✧※✧¤═¤◎✧※✧◎¤═¤※۩۞۩

मंसा सेवा *☆* के अभ्यास कि आवश्यकता /लक्ष्य एवं उद्देश्य ( स्वयं को, सेवा-साथियों को, सेवा-स्थानों को और बेहद के वातावरण, वायुमंडल को शक्तिशाली और निर्विघ्न बनाने के लिये )

۩۞۩✧※✧¤═¤◎✧※✧◎¤═¤※۩۞۩

➣➣ वाणी द्वारा भी कहाँ तक सेवा करेंगे? कितनों की करेंगे ? अब तो रुहानी वायब्रेशन, अशरीरीपन की स्थिति के वायब्रेशन, न्यारे और प्यारेपन के शक्तिशाली वायब्रेशन वायुमण्डल में फैलाओ । सेवा की तीव्रगति का साधन भी यही हैं । दूसरों की सेवा करने से पहले स्वयं इस विधि में सम्पन्न होंगे तब सेवा की सिद्धि को प्राप्त करेंगे । अब वाणी में आना सहज हो गया हैं और दिल से भी करते हो क्योंकि अभ्यास पक्का हो गया हैं ऐसे यह अभ्यास भी नेचुरल हो जाएगा ; इस नेचुरल अभ्यास से ही नेचर बदली होगी –चाहे मनुष्य आत्माओ की नेचर, चाहे प्रकृति (नेचर ), समझा ॥
( 29-12-89 )

➣➣ तपस्या के वायब्रेशन विश्व में और तीव्रगति से फैआओ । जो सुनाया योग के प्रयोग को और अनुभव की प्रयोगशाला में प्रयोग की गति को बढ़ाओ । वर्तमान समय सर्व आत्माओ को आवश्यकता हैं आपके शक्तिशाली वायब्रेशंस द्वारा वायुमण्डल द्वारा परिवर्तन होने की, इसलिये प्रयोग को और बढ़ाओ ॥
( 26-10-91 )      ✶ ओम शांति ✶

Experience-Renu Bahan

   रेनू बहन का पॉवर ऑफ़ साकाश टीम से जुड़ने के बाद का अनुभव :-

  मेरा पुरुषार्थ हमेशा ऐसा होता है कि कुछ दिन अपने आप पावरफुल योग लगा रहता है । उन दिनों बाकी पुरुषार्थ भी सहज होता है। वैसे तो मुझ आत्मा के इस संगमयुग जीवन में कोई विघ्न है ही नहीं पर फिर भी जो भी परिस्थिति आती है उन पर मैं सहज ही विजय पा लेती हु । फिर कुछ दिन ऐसे आते है जब मेरा बिल्कुल योग नहीं लगता । मैं कितनी भी कोशिश करू पर बाबा का प्यार फील नहीं होता। मैंने सारे तरीके अपना लिये पर कोई फायदा नहीं । ना मुरली पढ़ने में मन लगता है ना कॉमेंट्री सुनने से योग लगता है । जब मैं पॉवर ऑफ़ सकाश टीम से जुडी तो मेरी योग ना लगने वाली ही स्थिति थी ।

  पर जैसे ही इस डायमंड ग्रुप के मैसेज, कमेंट्री, क्लासेज आदि प्राप्त होने लगे और उनको पढ़ा या सुना तो जैसे योग ना लगने वाला वो अवस्था ही गुम हो गयी और सहज ही योगयुक्त अवस्था हो गई। पहले तो मुझ आत्मा को फिर से वही योगयुक्त स्थिति पाने में मेहनत करनी पड़ती थी और टफ भी काफी लगता था पर इस बार तो एकदम से मैंने उस स्थिति को पा लिया। और मुझे लगता है इस बार योग ना लगने वाली स्थिति बनेगी ही नहीं क्योंकि रोज नये मैसेज और ऑडियो प्राप्त होते रहेंगे तो योग में नवीनता और उमंग बना रहेगा । ये मेरे लिए बहुत बहुत बड़ी बात है क्योंकि मुझ आत्मा के लिए बाबा से नजदीकी अनुभव ना होना सबसे बड़ी सजा है। और आप महान आत्माओ ने मुझ आत्मा का कितना कल्याण किया है, ये शब्दों में बता पाना मुश्किल है।

  दूसरा इस परम प्यारे ग्रुप से जुड़ने के बाद मेरा मेरे प्यारे बाबा की प्यारी सी फैमिली से जैसे बहुत नजदीक का सम्बन्ध जुड़ गया हो। जैसे मैं सेवा में डायरेक्ट मददगार बन गई हूँ। जैसे मेरे बड़ो की नजर मुझ पर है और अब मैं सुस्त नहीं रह सकती। जैसे मुझे डायरेक्ट बाबा से डायरेक्शन मिल रहा हो। अब तो जैसे ये ग्रुप मेरी श्वास बन गया है। कभी सोचती भी हूँ की कही ग्रुप की ये सेवाएँ बंद हो गई तो। सोच कर ही डर सा लगता है। अब तो कही जाऊगी तो नेट का रिचार्ज करवा के ही जाउंगी । कृपा करके ये सेवा ऐसे ही करते और कराते रहना।

Experience-reeta bahan

  रीटा बहन (लंदन) का पॉवर ऑफ़ साकाश टीम से जुड़ने के बाद का अनुभव :-

  • मैं ब्रह्माकुमारीज़ से सितम्बर 2015 से जुडी हूँ। मैं इस दुनिया की चकाचोंध में ग़ुम हो गई थी । पर अब बाबा की मदद से इस चकाचोंध से बाहर आ गई हूँ ।सकाश टीम से भेजे गए सारे मैसेज तो इतने अच्छे होते है के वह मन को शान्त और बाबा को याद रखने के लिए बहुत मदद करते है। कुछ गीत बहुत अच्छे होते है और मैं उनको मैडिटेशन के लिए अमृतवेला और नुमाशाम के लिए इस्तेमाल करती हूँ ।
  • मेरे रोज की दिनचर्या बहुत बदल गई है और इतनी अच्छी बदली हुई है कि अभी मेरे दिमाग में व्यर्थ संकल्प बिल्कुल भी नही चलते। मैं सब का बहुत धन्यवाद करती हूँ दिल से। मेरा शत शत प्रणाम है, उस हर एक आत्मा को जो हम में अच्छा बदलाव लाने के लिए इतना कुछ कर रहे है। मैं चाहती हूँ बाबा भी मुझे शक्ति दे के मैं भी औरों की मदद कर सकूँ और यही मेरा लक्ष्य । एक बार फिर से धन्यवाद।

  रीतांशु भाई (शुजालपुर) का पॉवर ऑफ़ साकाश टीम से जुड़ने के बाद का अनुभव :-

  • मेरे बड़े भैया ज्ञान में नहीं चलते है और मैं यहाँ मुम्बई में मुलुंड सर्वोदया नगर के सेंटर पे जाता हूँ  मुरली सुनने । यहा मैं गर्मी की छुटी के लिए आया हूँ । कल भांडुप में बह्मा भोजन था । ये बात हमे दो दिन पहले बताई गई थी । भैया सेंटर तो जाने देते है पर और कही जाने के लिये मना करते है । तो मैंने उनको दो दिन बहुत अच्छे से सकाश दिया । फिर मैंने उनसे बोला की हमारा आज बह्मा भोजन है । तो उन्होंने कोई मना ही नहीं किया और जाने दिया।
  • सकाश का एक और परिणाम ये था की उन्होंने बोला की अगर तू IIT की परीक्षा क्लियर कर लेता है तो मैं भी बाबा का बच्चा बन जाऊंगा। तो शिव बाबा और आप सभी पॉवर ऑफ़ सकाश टीम के भाई बहन की बदौलत उस आत्मा को ज्ञान में लाना ही है।
    थैंक्यू बाबा

Experience – Court Case

* राकेश भाई का पॉवर ऑफ़ साकाश टीम से जुड़ने के बाद का अनुभव :-

*  मै पिछले छः वर्षों से ज्ञान में हूँ। मुझे सूरज भाईजी के प्रोग्राम से बहुत कुछ सीखने को मिला। एवम् सफलता भी मिली । तीन साल पहले एक कोर्ट का फैसला मेरे पक्ष में हुआ था । जिसे मेरे वकील को भी उम्मीद नहीं थी ।  उस समय सूरज भाई के प्रोग्राम को देख कर मैने भी पहली बार प्रयोग किया। मैं रोज सुबह शाम विपक्ष पार्टी और ऑफिसियल को सूक्षम वतन मे इमर्ज करके बाबा को जज के रुप मे सामने रख कर अपनी सच बात रखता एवम् बाबा से पावरफुल किरने लेकर उनको लगातार भेजता । एवम् सही फैसला लेने की वाइब्रेशन्स देता ।

*  लगातार यह प्रयोग किया कुछ महीनो बाद फैसला मेरे पक्ष मै आया तो मै भी आश्चर्य मे पड गया लेकिन यह बात मै ही समझ पाया कि यह जीत मेंरे विश्ववास की है । धन्यवाद बाबा मेरे विश्ववास की जीत के लिए।

* मोहन गेहलोत (राजस्थान) का पॉवर ऑफ़ साकाश टीम से जुड़ने के बाद का अनुभव :-

*  मैं हमेशा सकाश टीम के साथ चलता हूँ। मैं हमेशा अमृत वेला और नुमाशान योग करता हूँ।मेरे जीवन  का सच्चा और पहला चमत्कार…. मैं जिस घर में रहता हूँ वो लकड़ो का है… मैं एक बार नुमाशान योग कर रहा था,घर में मैं अकेला ही था। पूरा एक घंटे योग करके पूरा घर पवित्र vibration से भर गया था

*  और जेसे ही मैं योग करके खड़ा हुआ मेरे सामने एक बड़ा जहरीला साप मेरे पाव पे गिरा और वहां से वो बिलकुल नही हिला । जैसे अपने आप को मुझे समर्पण कर दिया हो। मैं समझ गया की ये योग की वाइब्रेशन का असर है। ये जो जहरीला साप भी मेरा कुछ नही बिगाड़ सका और तब से मैं हमेशा के लिए बाबा का हो गया। वाह! मेरे बाबा वाह!

Experience:- Relationship Sakash

* सोनल अग्रवाल (नोयडा) का पॉवर ऑफ़ साकाश टीम से जुड़ने के बाद का अनुभव :-

*  सकाश टीम में एक योग में यह बताया गया था कि इस जन्म में आपने जिन आत्माओं का दिल दुखाया है, उन सभी को बापदादा के सामने इमर्ज करके उनसे माफी मांग कर बापदादा से शक्तियां लेकर उन्हें भरपूर करना है।

*  मैने इस प्रकार किया । उसी रात को मेरी सहेली जिसको मैंने इमर्ज करके माफी मांगी थी। उसका message आया कि मैं तुमसे बात करना चाहती हूँ। हम दोनों के बीच थोड़ी गलतफहमी हो गई थी, जिसके कारण बातचीत नहीं हो रही थी। मेरी सहेली ने मुझसे माफ़ी मांगी । अब हम दोनों के बीच सब अच्छा हो गया है।

*  ये बहुत बड़ा चमत्कार था । जिस रिश्ते को सही करने के लिए मैंने कई बार कोशिश की, लेकिन फिर भी नहीं ठीक हुआ, सिर्फ राजयोग से कुछ ही घंटों में सही हो गया। “शुक्रिया शिव बाबा” मैंने जिन आत्माओं से माफी मांगी है आज उन सभी आत्माओं से भी मेरे रिश्ते अच्छे हो गए हैं ।

दूसरा अनुभव :-    जैसे की सकाश टीम के एक योग में बताया गया था । अब राजयोग करने के बाद मुझे अँधेरे से डर नही लगता । पहले मुझे अँधेरे से बहुत डर लगता था । मैं कभी अकेले अँधेरे कमरे में भी नही जा सकती थी । अब मैं महसूस करती हूँ कि शिव बाबा और मेरी साकाश टीम के सदस्य, हमेशा मेरे साथ हैं, और कोई मुझे हानि नही पहुंचा सकता । शिवबाबा और पॉवर ऑफ़ सकाश टीम का शुक्रिया । अब मैं अँधेरे के डर से मुक्त हूँ और अकेले रात को या अँधेरे में कही भी जा सकती हूँ ।